Random Posts

गंदे नाले जैसी हुआ करती थी ये नदी, लेकिन इस शख्स के कारण आज चमकता है इसका पानी

भारत को नदियों का देश कहा जाता है। क्योंकि हमारे देश में कई सारी नदियां मौजूद हैं और ये नदियां हम लोगों को जल प्रदान करती हैं। हालांकि इतनी सारी नदियां होने के बाद भी हमारे देश में हर साल सूखा पड़ता है और कई जगहों पर लोगों को पीने तक का पानी भी नहीं मिल पाता है। क्योंकि हमारे देश की कई सारी नदियां बेहद ही गंदी हैं और इन नदियों का पानी पीने के योग्य नहीं है। पंजाब राज्य की काली बीन नदी भी बेहद ही गंदी नदी हुआ करती थी और इस नदी का पानी नहाने के योग्य भी नहीं था। मगर आज ये नदी एकदम साफ हो गई है।
पंजाब के होशियारपुर में बहने वाली काली बीन नदी से बदबू आया करती थी और इस नदी के गंदे होने के कारण लोग इसका पानी इस्तेमाल नहीं कर पाते थे। हालांकि अब ये नदी एकदम शुद्ध है और इस नदी को एक शख्स ने अकेले अपने दम पर साफ किया है। जिस व्यक्ति ने इस नदी को साफ किया है उसका नाम बलबीर सिंह सीचेवाल है। बलबीर सिंह सीचेवाल ने अनोखे तरह से इस पवित्र नदी की सफाई की है।
दरअसल इस नदी को सिख धर्म में बेहद ही पवित्र माना जाता है और ऐसा कहा जाता है कि इस नदी के पास ही गुरु नानक जी को ज्ञान की प्राप्त हुई थी। बलबीर सिंह सीचेवाल, जो कि सिख धर्मगुरु और पर्यावरण कार्यकर्ता हैं उनके अनुसार जब वो इस नदी को देखते थे तो उन्हें बेहद ही दुख होता था। क्योंकि इस नदी को सिख धर्म में पवित्र माना गया है और इसके बावजूद भी ये नदी बेहद ही गंदी हुआ करती थी। मगर एक दिन बलवीर सिंह ने इस नदी की सफाई का जिम्मा उठाया और इस नदी की सफाई में लग गए। बलबीर सिंह सीचेवाल के मुताबिक उन्होंने जब इस नदी की सफाई शुरू की तो वो अकेले थे लेकिन धीरे-धीरे उनके साथ कई लोग जोड़ गए हैं और सबने मिलकर इस नदी को साफ किया।

बलबीर सिंह सीचेवाल ने सबसे पहले नदी के आस पास के किनारे साफ़ किए और फिर इस नदी के अंदर मौजूद कूडे़ को बाहर निकाला। कई हफ्तों तक इस नदी की सफाई की गई और आखिर में ये नदी एकदम साफ हो गई। इतना ही नहीं इस नदी के किनारों में छोटी छोटी सड़के भी बनाई गई और नदी के पास बहाने वाले नालों का रुख दूसरी और मोड दिया गया । क्योंकि इन नालों का पानी नदी में आ जाता था जिसकी वजह से इस नदी से बदबू आया करती थी। आज काली बीन नदी को इस कदर साफ किया गया है कि शाम को लोग इस नदी के पास घूमने के लिए आया करते हैं और नदी के पास समय बिताया करते हैं।
सरकार द्वारा नदियों की सफाई को लेकर कई तरह की योजना चलाई जा रही हैं। लेकिन अभी तक सरकार द्वारा नदियों को पूरी तरह से साफ नहीं किया जा सका है। वहीं बलबीर सिंह सीचेवाल ने अकेेले अपने दम पर काली बीन नदी को साफ किया है। आपको बात दें कि ये नदी करीब 160 किलोमीटर लंबी है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ