Random Posts

विधवा माँ के लिए दूल्हा तलाश रहा बेटा, वजह जान कर आप भी करेंगे तारीफ़

जिंदगी को हंसी ख़ुशी जीने के लिए हर किसी को एक जीवनसाथी की तलाश होती हैं. यही वजह हैं कि दुनियां में शादी की रीत शुरू हुई हैं. हालाँकि शादी करने के कुछ सालों बाद तलाक या किसी हादसे की वजह से लोग अपने जीवनसाथी को खो देते हैं. इसके बाद वे अकेले से पड़ जाते हैं. आमतौर पर जब कोई कम उम्र में दोबारा सिंगल रह जाता हैं तो उसकी शादी करवा दी जाती हैं. हालाँकि उम्र अधिक हो जाने के बाद लोग दोबारा शादी का नहीं सोचते हैं. यदि वे सोच भी ले तो समाज वाले उनकी खिल्ली उड़ाते हैं. खासकर यदि कोई महिला अपनी अधेड़ उम्र में दोबारा शादी करना चाहे तो समाज को ये बात हजम नहीं होती हैं. हालाँकि कोलकाता के हुगली में रहने वाला एक बेटा समाज की परवाह ना करते हुए अपनी विधवा माँ के लिए वर की तलाश कर रहा हैं.
दरअसल इन दिनों सोशल मीडिया पर एक फेसबुक पोस्ट बड़ी तेज़ी से वायरल हो रही हैं. इस पोस्ट को गौरव अधिकारी नाम के एक युवक ने पोस्ट किया हैं. पोस्ट में गौरव बताते हैं कि उसे अपनी विधवा माँ के लिए एक योग्य वर की तलाश हैं. गौरव का कहना हैं कि मुझे नौकरी की वजह से अक्सर घर से बाहर रहना पड़ता हैं, फिर बाद में मेरी शादी भी हो जाएगी. ऐसे में शायद मैं अपनी माँ को ज्यादा समय नहीं दे पाऊंगा. गौरव ने अपनी पोस्ट में बताया कि उनकी माँ को किताबें पढ़ने और गाने सुनने का बहुत शौक हैं. मैं जब बाहर होता हूँ तो वे अपने अकेले समय में यही सब करती हैं.

हालाँकि इन किताबों और गानों के सहारे जिंदगी नहीं काटी जा सकती हैं. ये चीजें जीवनसाथी की कमी पूरी नहीं कर सकती हैं. गौरव बताते हैं कि हमें रुपए पैसे या संपत्ति का लालच नहीं हैं. हम बस इतना चाहते हैं कि वर को आत्मनिर्भर होना चाहिए. वो बस मेरी माँ को खुश रखे, इसी में मेरी ख़ुशी भी छिपी हैं. गौरव ने आगे कहा कि मेरे इस फैसले से कई लोग मेरी हंसी भी उड़ाएंगे लेकिन इन सब चीजों से मेरा फैसला नहीं बदलेगा. मैं अपनी माँ को एक नया जीवन देना चाहता हूँ. मेरी तमन्ना हैं कि उन्हें एक नया साथी और नया दोस्त मिले.

गौरव ने ये भी बताया कि वो अपनी माँ की इकलोती संतान हैं. ऐसे में ये नहीं चाहते कि उसकी माँ अकेली पड़ जाए. उन्होंने फेसबुक पर ये पोस्ट करने के पहले माँ से भी पूछा था. माँ का कहना था कि वो अपने बेटे के बारे में सोच रही हैं. हालाँकि गौरव का कहना हैं कि माँ के बारे में सोचना मेरा भी कर्तव्य हैं. मैं चाहता हूँ कि माँ के बाकी के दिन अच्छे तरीके से गुजरे.
गौरव की इस पहल और सोच की सोशल मीडिया पर बहुत तारीफ़ हो रही हैं. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इसके पहले भी इसी तरह का एक और पोस्ट ट्विटर पर वायरल हुआ था जिसमे एक लड़की अपनी 50 वर्षीय माँ के लिए योग्य वर तलाश कर रही थी.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ