Random Posts

नाशपाती के फायदे जानकर ज़रूर खाएंगे आप यह फल

नाशपाती के फायदे अनगिनत हैं और इस फल को खाने से शरीर को कई तरह के लाभ मिलते हैं। नाशपाती (Nashpati) का फल बारिश के मौसम में बिकता है। इस फल के अंदर कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। जिसकी वजह से इस फल का सेवन करना उत्तम माना जाता है। नाशपाती के फायदे क्या-क्या है इसकी जानकारी इस प्रकार है।

नाशपाती के फायदे (Nashpati ke Fayde)

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाएं

नाशपाती (Nashpati) का सेवन करने से प्रतिरोधक क्षमता पर अच्छा असर पड़ता है और इसे खाने से प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। ऐसा होने पर शरीर की रक्षा कई रोगों से होती हैं। इसलिए आप अपनी डाइट में इस फल को जरूर शामिल कर लें।

पाचन क्रिया बेहतर बनाएं

नाशपाती के फायदे

नाशपाती का सेवन करने से पाचन क्रिया पर अच्छा असर पड़ता है और इसे खाने से भोजन अच्छे से पच जाता है। इतना ही नहीं नाशपाती खाने से पेट की आंतों पर भी अच्छा असर पड़ता है।

वजन करे कम

नाशपाती के फायदे (Nashpati ke Fayde) वज़न कम करने में असरदार होते हैं। नाशपाती खाने से वजन कम होने में मदद मिलती है। इसलिए वजन कम करने की इच्छा रखने वाले लोग इस फल को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं और रोज एक नाशापाती का सेवन करें।

रक्त वाहिका करे मजबूत


नाशपाती (Nashpati) के अंदर विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। विटामिन सी खाने से कोलेजन का निर्माण होता और रक्त वाहिकाओं को मजबूती मिलती है। इसके अलावा विटामिन-सी युक्त खाना खाने से त्वचा पर भी अच्छा असर पड़ता है।

खून की कमी करे पूरी

नाशपाती खाने से शरीर में खून की कमी नहीं होती है। इसलिए जिन लोगों के शरीर में खून की कमी है वो लोग इस फल का सेवन करना शुरू कर दें। रोज एक नाशपाती (Nashpati) खाने से खून की कमी तुरंत पूरी हो जाएगा।

आंखों के लिए गुणकारी


नाशपाती के फायदे (Nashpati ke Fayde) आंखों से भी जुड़े हुए हैं और नाशपाती को खाने से आंखों पर अच्छा असर पड़ता है। जो लोग रोज इस फल का सेवन करते हैं, उन लोगों की आंखों की नजर मजबूत बनीं रहती है।

हड्ड‍ियों के रोगों से हो रक्षा

इस फल को खाने से हड्डियों से जुड़ी परेशानी भी नहीं होती है। दरअसल इस फल के अंदर बोरॉन नामक रासायनिक तत्व पाया जाता है और ये तत्व शरीर में कैल्शियम का स्तर सही बनाएं रखता है।

कब्ज में असरदार

नाशपाती के फायदे

नाशपाती के फायदे कब्ज़ में रामबाण हैं. कब्ज की समस्या से परेशान लोग नाशपाती का सेवन किया करें। इस फल को खाने से कब्ज नहीं होगी। नाशपाती के अंदर पेक्टिन नामक पदार्थ पाया जाता है जो कि कब्ज की समस्या से निजात दिलाने में मददगार होता है। इसलिए जिन लोगों को अक्सर कब्ज की समस्या रहती है वो लोग इस फल का सेवन जरूर किया करें।

मुंहासे हों सही

नाशपाती के फायदे चेहरे से भी जुड़े हैं और इसे खाने से चेहरे पर निखार आ जाता है। दरअसल  इसके अंदर विटामिन और खनिज पाए जाते हैं जो कि चेहरे पर ग्लो लाते हैं। नाशपती का जूस पीने से शरीर में मौजूद बैक्‍टीरिया भी नष्‍ट हो जाते हैं और खून एकदम शुद्ध रहता है। खून शुद्ध होने से चेहरे पर मुंहासे नहीं होते हैं। इसके अलाव शरीर में विषाक्‍त पदार्थो का निर्माण भी नहीं होता है।

पथरी से मिले राहत

नाशपाती के फायदे

पथरी की बीमारी से ग्रस्त लोगों के लिए नाशपाती लाभकारी साबित होता है और इसे खाने से गुर्दाे की पत्‍थरों से राहत मिल जाती है। दरअसल इस फल के अंदर पाऐ जाने वाला मैलिक ऐसिड गैस्‍ट्रोथोन को रोकने में सहायक साबित होता है। इसलिए पथरी होने पर आप इस फल के जूस का सेवन जरूर करें।

तैलीय त्वचा से छुटकारा मिले

बारिश के मौसम में अक्सर चेहरे की त्वचा तैलीय हो जाती है। अगर आप भी तैलीय त्वचा की समस्या से परेशान रहते हैं तो चेहरे पर नाशपाती का पैक लगाएं। नाशपाती का पैक तैयार करने के लिए आप एक नाशपाती (Nashpati) को पीस लें। पीसे हुए नाशपाती के अदंर आप एक चम्‍मच शहद और दही मिलाकर एक मिश्रण तैयार कर लें। इस मिश्रण को आप अपने चेहरे और गर्दन पर अच्छे से लगा लें और जब ये सूख जाए तो इसे हल्के गर्म पानी से साफ कर दें। ये मिश्रण लगाने से त्‍वचा से तेल के अवशोषित बाहर निकाल आएंगे और आपको एक निखरी हुई त्वचा मिल जाएगी। आप इस पैक को हफ्ते में दो बार लगाएं। आप चाहें तो इस पैक के अंदर हल्दी भी मिल सकते हैं।

गले की खराश करें ठीक

नाशपाती के फायदे

नाशपाती के फायदे गले की खराश को ठीक करने में लाभकारी होते हैं। गले में खराश होने पर आप नाशपाती का उपयोग करें। नाशपाती को खाने से गले की खराश एकदम सही हो जाएगा। आप बस नाशपाती (Nashpati) लेकर उसे काट दें। फिर इसमें थोड़ा शहद मिला दे। आप इसका सेवन दिन में तीन बार करें। इसके अलावा आप चाहें तो इसका जूस निकालकर उसमें शहद भी मिलाकर पी सकते हैं। इसे पीने से गले की खराश एकदम सही हो जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ