Random Posts

पत्नी के निधन के कुछ ही मिनटों बाद पति ने त्यागे प्राण, साथ जीने-मरने की कसम बखूबी निभाई

कहते हैं शादी 7 जन्मों का रिश्ता होता हैं. जब आप किसी से शादी रचाते हैं तो उसके साथ जीने और मरने की कसमें भी खाते हैं. पति अपनी होने वाली बीवी से ये वादा करता हैं कि वो उसके साथ अंतिम सांस तक खड़ा रहेगा. इस बात को  मुंगेर जिले के हवेली खड़गपुर में रहने वाले एक शख्स ने इस कदर निभाया कि लोग भी हैरान रह गए और उनकी आँखों से अनसू झड़ गए. दरअसल हवेली खडग़पुर प्रखंड क्षेत्र के मुढ़ेरी गांव में गांधी पासवान नाम के एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी के निधन के कुछ ही मिनटों बाद प्राण त्याग दिए. ऐसे में पुरे गाँव में इन दोनों की अर्थी साथ में ही निकली. फिर एक ही चिता पर दोनों का अंतिम संस्कार भी हुआ. ये नाजर देख पूरा गाँव भावुक होकर रो पड़ा. आइये इस पूरी घटना को और विस्तार से बताते हैं.
स्वर्गीय गांधी पासवानके पुत्र गुरुदेव पासवान ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले कुछ दिनों से मेरी माँ की तबियत बहुत खराब चल रही थी. उन्हें बहुत दस्त हो गए थे. ऐसे में बुधवार को हम माँ को इलाज हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हवेली खडग़पुर ले गए. यहाँ जांच के दौरान डॉक्टर्स ने माँ को मृत घोषित कर दिया. इसके बाद हम माँ को लेकर घर पहुंचे और अंतिम संस्कार कि तैयारियों में लग गए. माँ के निधन को एक घंटा भी नहीं बिता था कि उसके बाद पिताजी ने भी अपने प्राण त्याग दिए. इस घटना से हम सभी सदमे में आ गए. हमने एक साथ परिवार के दो सदस्यों को खो दिया.
पति पत्नी के लगभग साथ में निधन होने की वजह से दोनों को एक साथ एक ही अर्थी पर ले जाया गया. ये नजारा देखने पुरे गाँव में भीड़ उमड़ आई. इसके बाद इन दोनों का दाह संस्कार भी एक ही चिता पर हुआ. ये नजारा देख वहां मौजूद हर शख्स की आँखें नम हो गई. हम सभी कहानी और किस्सों में ही इस तरह की बाते सुनते हैं कि प्रेमी प्रेमिका या पति पत्नी एक दुसरे से साथ जीने और साथ मरने के वादे करते हैं. इस बात को इस कपल ने रियल लाइफ में भी साबित कर सभी को चौका दिया. गाँव के सभी लोगो ने नम आँखों के साथ इस दंपति को आकर अपनी श्रद्धांजलि दी. अब पुरे गाँव में बस इसी दंपति के चर्चे हैं. इसे कुदरत का करिश्मा कहे या ऊपर वाले का नियम लेकिन ये नज़ारा देख हर कोई अचंभित रह गया.
उधर सोशल मीडिया पर जब लोगो को इस घटना की जानकारी मिली तो वे भी दंग रह गए. कोई बोला कि ये होता हैं सच्चा प्यार तो वहीं किसी ने कहा कि पति ने शादी में जो कसमे खाई थी उसे भुला नहीं और सच में निभा दिया. वाकई ये अद्भूत हैं. इसी तरह सभी लोग कुछ ना कुछ कमेंट्स करने लगे. कुछ का ये भी कहना हैं कि हम इस दंपति से ये प्रेरणा ले सकते हैं कि अपने जीवनसाथी का साथ कभी नहीं छोड़ना चाहिए. अपनी अंतिम सांस तक एक दुसरे का साथ निभाना चाहिए.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ