Random Posts

पीता है 1 किलो घी, खाता है बादाम और इस भैंसा की कीमत है 15 करोड़ रुपये, जानें इसकी खूबियां

राजस्थान के पुष्कर में इन दिनों दुनिया का सबसे बड़ा पशु मेला लगा हुआ है। इस मेले में दुनिया भर के पशु शामिल हुए हैं। इन्हीं तमाम पशुओं में से इस बार एक भैंसा जमकर सुर्खियां बटोर रहा है। जी हां, इस भैंसा को देखकर हर कोई दांतों तले उंगली दबा रहा है। भैंसा की कीमत 15 करोड़ रुपये बताई जा रही है। इसके अलावा इसकी अनेक खूबियां भी है, जो इंसानो से काफी मिलती जुलती है, जिसकी वजह से इसकी कीमत भी बहुत ही ज्यादा है। तो चलिए जानते हैं कि इस भैंसा के पास आखिर क्या क्या खूबियां है?
पशु मेले में इस भैंसा का नाम भीम बताया जा रहा है। इस भैंसा को देखने के लिए दूर दूर से लोग आ रहे हैं। इतना ही नहीं, इसके मालिक ने इसकी इतनी ज्यादा कीमत होने के बारे में भी बताया। बता दें कि भीम का कितना अच्छा खासा कद सिर्फ 6 सालों में ही हुआ है, जिसकी वजह ये काफी ज्यादा स्पेशल माना जाता है, ऐसे में लोग इसकी खूबियों के बारे में जानने के लिए बेताब हैं। मेला में जो भी शख्स घूमने आ रहा है, वो सिर्फ इसी भैंसा के बारे में जानने के लिए उत्सुक दिखाई दे रहा है।

आखिर क्यों है ये भैंसा इतना महंगा?

भीम के मालिक ने बताया कि इसकी कीमत 15 करोड़ रुपये है। ये भैंसा अन्य भैंसा से बिल्कुल अलग है। इस भैंसा से जो भी भैंस गर्भवती होती है, वो हमेेशा ज्यादा दूध देने वाली भैंस ही पैदा करती है, जिसकी वजह से इसकी कीमत 15 करोड़ लगाई गई है। यही वजह है कि इस भैंसा को खरीदने के लिए भी लोग उत्साहित हैं। बता दें कि भैंसा का प्रयोग भैंस को गर्भवती करने के लिए किया जाता है, जिसमें इस भैंसा की मांग बहुत ज्यादा है।

क्या है भीम का डाइट प्लान?


भीम के मालिक ने आगे बताया कि इसका डाइट प्लान बिल्कुल अलग थलग है। दरअसल, ये भैंसा एक दिन में 1 किलो घी पीता है। इसके अलावा बादाम, काजू और छुआरे आदि भी खाता है। मतलब साफ है कि भीम को ड्राई फ्रूटर्स बहुत ही ज्यादा पसंद है। इतना ही नहीं, ये मक्खन और शहद भी खाता है। ऐसे में इसके खानपान का खर्च करीब सवा लाख रुपये होता है, जिसकी वजह से भी इसकी कीमत हाई फाई बताई जा रही है। बता दें कि भीम को भारी भरकम खानपान ही पसंद है और ये अन्य भैंसा की तरह चारा नहीं खाता है।

सिर्फ 6 साल में बन गया ऐसा

मालिक ने बताया कि सिर्फ 6 साल की मेहनत में ये इतना अच्छा बन गया और इसका कद भी 6 सालों में ही ऐसा हुआ है। बता दें कि इस भैंसा की देखभाल के लिए चार लोग लगाए है। और रोज़ाना एक किला सरसों के तेल से इसकी मालिश होती है, ताकि इसकी फिटनेस बरकरार है। मतलब साफ है कि ये भैंसा अन्य भैंसा की तुलना में काफी अलग है, जिसकी वजह से ये इतना महंगा है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ