Random Posts

यहाँ किराए पर मिलते हैं दुल्हे और रिश्तेदार, कुँवारी लड़कियां लाखों रुपए देकर खरीदती हैं

जब भी किसी लड़की की उम्र शादी लायक हो जाती हैं तो वो और उसके घर वाले दुल्हे की तलाश शुरू कर देते हैं. आमतौर पर ये दुल्हा अरेंज या लव मेरिज के आधार पर ढूँढा जाता हैं. जब भी दुल्हे की तलाश होती हैं तो दुल्हन यही चाहती हैं कि उसका होने वाला पति हमेशा उसके साथ रहे. लेकिन आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहाँ कुँवारी लड़कियां शादी के लिए किराए पर दुल्हे और रिश्तेदार खरीदती हैं. मतलब ये लोग कुछ समय के लिए ही लड़की के साथ होते हैं. लड़की को इनकी जरूरत सिर्फ शादी के लिए होती हैं. इसके बाद उसे भी उनसे कोई लेना देना नहीं रहता हैं.
हैरान कर देने वाली बात तो ये हैं कि लड़कियां कुछ समय के लिए इन दुल्हों को किराए पर लेने के लिए 4 लाख रुपए तक खर्च कर देती हैं. लड़कियां इन दुल्हे और रिश्तेदारों को कंपनी से खरीदती हैं. यहाँ पर इन्हें किराए पर देने वाली कई कम्पनियाँ उपलब्ध हैं. इतना ही नहीं इन दिनों इन कंपनियों का बिजनेस भी खूब अच्छे से चल रहा हैं. ये कम्पनियाँ शादी के लिए एक दुल्हा और 20 रिश्तेदार 4 लाख की रकम पर किराए से देती हैं. यदि आपको 400 रिश्तेदार चाहिए तो उसका भी बंदोबस्त हो जाता हैं पर उसकी रकम बढ़ जाती हैं. इस तरह के काम कर ये कम्पनियाँ करोड़ो रुपए तक कमा रही हैं.

अब आप यही सोच रहे होंगे कि इस तरह का काम कहाँ और किस वजह से होते हैं. तो चलिए इस राज से भी पर्दा उठाए देते हैं. ऐसा वियतनाम में होता हैं. बात ये हैं कि इन कंपनियों की मुख्य ग्राहक ऐसी महिलाएं होती हैं जो शादी के पहले ही गर्भवती बन जाती हैं. यहाँ पर शादी के पहले किसी कुंवारी लड़की का पेट से होना कलंक माना जाता हैं. उसकी बहुत बदनामी भी होती हैं. ऐसे में वे कुँवारी गर्भवती लड़कियां इस कंपनी से किराए पर दुल्हे और उसके रिश्तेदार ले लेती हैं. इसके बाद वो समाज को दिखाने के लिए एक भव्य शादी करती हैं. इससे लाभ ये होता हैं कि समाज को लगता हैं लड़की को जो बच्चा हुआ हैं वो इस शादी के बाद ही हुआ हैं. इस तरह समाज में उसकी बदनामी नहीं होती हैं.
लड़की की शादी हो जाने के कुछ समय बाद किराए का दुल्हा अलग हो जाता हैं. ऐसे में लड़की समाज में बहाना बना सकती हैं कि उसका तलाक हुआ हैं और उसके पास जो बच्चा हैं वो शादी के बाद का ही हैं. एक और दिलचस्प बात ये हैं कि जो व्यक्ति किराए का दुल्हा बनता हैं वो भी आमतौर पर पहले से शादीशुदा ही होता हैं. ये उसके लिए एक तरह से जॉब होती हैं. कुछ देर के लिए शादी में दुल्हा बनो और फिर दूसरा ग्राहक ढूंढो. ये चीज हैरान करने वाली तो हैं लेकिन इसकी वजह से कई कुँवारी गर्भवती लड़कियां समाज में बदनाम होने से बच जाती हैं.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ