Random Posts

अयोध्या बनेगा देश का सबसे बड़ा धर्मस्थल, हवाईअड्डा और सरयू पर क्रूज बनने की होगी तैयारी

9 नवंबर को देश का सबसे बड़ा मुद्दा खत्म हो गया और सुप्रीम कोर्ट ने रामलला के हक में फैसला सुनाया। 3 महीने में मंदिर बनवाने का आदेश भी यूपी सरकार को दिया और इसके साथ ही मुस्लिम कमेटी को अयोध्याम में ही 5 एकड़ जमीन देने का भी आदेश दिया है। ये फैसला मुस्लिम और हिंदू दोनों के हक में आया और इस खबर पर पूरी दुनिया की नजर रही है। तो अब क्या क्या अयोध्या बनेगा देश का सबसे बड़ा धर्मस्थल? ये एक बड़ा सवाल बन गया है।

क्या अयोध्या बनेगा देश का सबसे बड़ा धर्मस्थल?

राम मंदिर वाले मसले में सुप्रीम कोर्ट ने फैसला क्या सुनाया अयोध्या के तो भाग्य ही जग गए। शुरुआती दौर में अयोध्या नगर निगम को इसकी जिम्मेदारी दी गई कि अब अयोध्या का विकास होना चाहिए। अयोध्या नगर निगम अब अपने क्षेत्र का विस्तार करने जा रही है और इसके लिए नगर निगम ने शासन को प्रस्ताव भेजा कि इससे सटे 41 राजस्व गांव अब अयोध्या नगर निगम भी शामिल होंगे। वहीं दूसरी ओर अयोध्या को धर्मनगरी के तौर पर विकसित करने के लिए बड़ा प्लान किया जा जाएगा। योगी सरकार की कोशिश है कि अयोध्या देश का सबसे बड़ा धार्मिक स्थल बनाया जाए और इसके लिए अयोध्या तीर्थ डेवलपमेंट बोर्ड गठित किया जा रहा है। ऐसे में माना जा रहा है कि इस पूरी प्रक्रिया में कई चरण होंगे, जिसमें अभी 4 साल लग सकते हैं। शहर के विकास के साथ ही योगी सरकार की कोशिश है कि अयोध्या में अंतराष्ट्रीय स्तर पर एयरपोर्ट बनाया जाए और दुनिया भर से श्रद्धालु सीधे रामनगरी में ही उतर पाएं। अगले साल राम नवमी तक इसकी शुरुआत हो जाए इसके लिए कोशिश की जा रही है। बता दें अयोध्या रेलवे स्टेशन के लिए मोदी सरकार ने 100 जारी किया है और इस मामले में अयोध्या के मेयर राकेश उपाध्याय बताते हैं कि सरकार अयोध्या के बड़े स्तर पर विकास के लिए जोर दे रही है।

बहुत ही जल्द इसे अंतिम रूप देकर सार्वजनिक किया जाएगा। कुछ प्रमुख योजनाओं की बात करें तो अयोध्या एक नया अंतरराज्यीय बस टर्मिनल बनेगा जहां से 3000 से 4000 बसें चलाने की योजना होगी। सूत्रों के अनुसार, भगवान राम के जीवन पर आधारित 13 किलोमीटर लंबा श्रीराम कॉरिडोर बनाया जाएगा और इसकी जिम्मेदारी संस्कृति और पर्यटन विभाग को दी गई है। वहीं वारणसी में गंगा की तरह यहां पर भी सरयू नदी में क्रूज चलाया जाएगा। ये क्रूज श्रद्धालुओं, पर्यटकों को अयोध्या के अलग-अलग जगहों का दौरा कराएगा। इतना ही नहीं इस धर्मनगरी में विश्वस्तरीय फाइव स्टार होटल और रिसॉर्ट तैयार होंगे जो विदेशी पर्यटकों के लिए सुविधा उपलब्ध कराएगा।

शामिल होंगे 22 गांव

अयोध्या नगर निगम से सटे हुए 41 राजस्व गांव अब निगम में शामिल होंगे और इससे अयोध्या नगर निगम का क्षेत्रफल भी बढ़ेगा। अयोध्या नगर निगम के विकास के लिए राज्य सरकार तेजी से काम कर रही है। फैजाबाद अयोध्या जुड़वा शहर मिलाकर 60 वॉर्ड थे जहां पर प्रदेश में भाजपा सरकार बनने के बाद नगर पालिका से नगर निगम बनाया गया था। नगर निगम विस्तारीकरण की योजना बहुत पहले बनी थी और पहले नगर निगम के केवल 22 गांव शामिल होने थे लेकिन अब बदले परिवेश में नगर निगम से सटे 41 गावों को शामिल किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ