Random Posts

इस गांव में जन्म के 12 साल बाद लड़किया बन जाती हैं लड़का, दुखद है कहानी

इस गांव में जन्म के 12 साल बाद लड़किया बन जाती हैं लड़का, दुखद है कहानी

एक एेसा देश जहां लड़कियां 12 साल के बाद लड़का बन जाती है। जी हां दोस्तों यह सच है। लडक़ी 12 साल की उम्र पूरी करती है, तो वह अपना वजूद खोकर लडक़ा बन जाती है। डोमिनिकन रिपब्लिक का एक छोटा सा गांव जो अजीबों-गरीब बीमारी से ग्रस्त हैं। बीमारी भी ऐसी कि जो लोगों के अस्तित्व पर सवाल उठा रही है। कैरेबियाई देश डोमिनिकन रिपब्लिक के ला सेलिनास गांव के लोग इस लाइलाज बीमारी से परेशान है।



इस गांव में बच्चा पैदा तो लड़की के तौर पर होता है, लेकिन 12 साल की उम्र आते-आते वो अपने आप लड़का बन जाता है। उसके शरीर में लिंग और अंडकोश विकसित होने लगते हैं। यहां के लोग ऐसे बच्चों को घृणा की दृष्टि से देखते हैं। उन्हें समाज से हीन दृष्टि से देखा जाता है।



बायोलॉजिकल डिसऑर्डर

यहां ऐसे बच्चों को ‘ग्वेदोचे' के नाम से जानते हैं, जिसका मतलब वैसा ही होता है जैसा हमारे यहां किन्नरों के लिए 'हिजड़ा' शब्द इस्तेमाल किया जाता है।यह एक बायोलॉजिकल डिसऑर्डर है। जिसे ‘सूडोहर्माफ्रडाइट' के नाम से जानते हैं। इस बीमारी में लड़की के तौर पर पैदा हुए कुछ बच्चों के शरीर में धीरे-धीरे पुरूषों के प्राइवेट पार्ट्स आने लगते हैं। उसके शरीर में वो बदलाव आने शुरू हुए जो उन्हें धीरे-धीरे लड़की से लड़का बना देते हैं।



90 बच्चों में से किसी एक को होती है ये बीमारी

ये दुर्लभ बीमारी यहां के 90 में से किसी एक बच्चों को होती है। ऐसे बच्चों में हार्मोनल एंजाइम की कमी के चलते वो बिना किसी सेक्स ऑर्गन के पैदा होते हैं। ऐसे बच्चों के भीतर सेक्स ऑर्गेन प्यूबर्टी के समय विकसीत होने लगता है। हॉर्मोन के चलते उनके शरीर में लिंग विकसित होना शुरू हो जाता है और वो एक मर्द की तरह दिखने लगते हैं। जो लड़की के तौर पर पैदा हुआ होता है अचानक उसके शरीर में लिंग बनने लगते हैं, उसकी आवाज भारी होने लगती है। उसके शरीर में बदलाव आने लगता है। इस बीमारी से जूझ रहे बच्चे समाज से कट जाते हैं। लोग उन्हें घृणा की दृष्टि से देखने लगते है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ