Random Posts

अगर करोड़पति बनना चाहते है तो इस दिन अपने बाल कटवाये

हिंदुधर्म में सप्ताह में कुछ दिन ऐसे भी होते हैं, जिनमें आपकी रोजमर्रा से जुड़े कुछ नियम कानून बने हैं जिसे मानना बेहद जरूरी होता है। क्योंकि ऐसा न करने से आप अपने दुर्भाग्‍य को न्‍यौता देते हैं। इसलिए आप इन चीजों को मानकर अपने घर में सुख शांति व समृद्धि को न्‍योता देंगे। परंपरा और समाज की आम धारणा के अनुसार बाल और नाखून काटने के विषय में स्पष्ट संकेत प्राप्त होता है। 

ज्योतिष के अनुसार धारणा है कि रोजमर्रा के कार्यो से जुड़ी भी अनेक परंपराएं हैं जैसे स्नान के बाद ही पूजा करना, खाने के पहले नहाना, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को बाल नहीं कटवाना आदि। ऐसी ही एक बेहद महत्वपूर्ण और अनिवार्य परंपराओं व नियमों में बाल कटवाने के विषय में भी बताया गया है तो आईए जानें कब और क्यों नहीं कटवाने चाहिए बाल।
माना जाता है कि रविवार, बुधवार व शुक्रवार के दिन  शुभ माना जाता है। वहीं सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को बाल कटवाने से नुकसान होता है।
सोमवार के दिन बाल कटवाने से संतान की हानि होती है, उसके शिक्षा में रुकावटें आएंगी। बाल कटवानें वाले व्यक्ति का मन अप्रसन्न रहता है।
मंगलवार के दिन बाल कटवाने से धन की हानि होती है कहा जाता है कि इससे व्‍यक्ति का मंगल ग्रह कमजोर हो तो मंगलवार को बाल कदापि न कटवाएं अन्यथा मंगल ग्रह अशुभ फल देने लगता है।
गुरुवार के दिन बाल कटवाने से गुरु की शुभता में कमी आती है। इससे बड़े-बुर्जुगों से अनबन होती है वहीं साथ ही में दाम्पत्य जीवन में तनाव बना रहता है।

शनिवार के दिन बाल कटवाने से शनि ग्रह की शक्ति में कमी आती है घर के नौकर काम छोड़ देते हैं, मन में गलत काम करने के विचार आते हैं। गठिया व कमर दर्द के रोगियों को शनिवार के दिन बाल कटवाने से रोग में वृद्धि होती है।

वहीं अगर महिलाओं की बात करें तो सोमवार, बुधवार और गुरुवार को बाल नहीं धोना चाहिए। माना जाता है कि सोमवार को धोने से बेटी पर भार रहता है तो बुधवार को धोने से भाई पर। गुरुवार को न तो बाल धोते हैं, न घर में पोंछा लगाते हैं और न ही जाले साफ करते हैं। ऐसे करने से बरकत चली जाती है और कई तरह की आर्थिक परेशानी उठानी पड़ती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ