Random Posts

यहां आजादी से रहती हैं मुस्लिम महिलाएं, पर्दे में रहने को मजबूर पुरुष, जानिए क्यों

यहां आजादी से रहती हैं मुस्लिम महिलाएं, पर्दे में रहने को मजबूर पुरुष, जानिए क्यों

आज हम आपको एक ऐसी ही जनजाति के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके रिवाज दूसरों की तुलना में बहुत ही अलग है। पश्चिमी अफ्रीका के नाइजर में रहने वाली तुआरेग ट्राइब्स में महिलाएं को अपनी मर्जी से कोई भी काम करने की आजादी है। 
हमारी दुनिया अजीबोगरीब परंपराओं और रीति-रिवाजों से भरी पड़ी हैं। यहां महिलाओं को शादी से पहले कई मर्दों से संबंध बनाने की इजाजत है, लेकिन पुरुषों को पर्दे में रहना पड़ता है।
तुआरेग ट्राइब्स की महिलाओं को दुनियाभर के मर्दों के बराबर अधिकार मिले हुए हैं। वो बेखौफ घूमती हैं, जबकि लड़के को पर्दें में रहना पड़ता है। परंपरा के मुताबिक महिलाएं अपनी मर्जी से शादी कर सकती हैं। 
इतना ही नहीं, शादी के बाद भी वह किसी गैर मर्द के साथ संबंध बना सकती हैं। वहीं, पुरुषों को अपना चेहरा समाज से छिपाकर रखना होता है। तुआगो जनजाति में महिलाएं कभी भी चाहें तो पति को हमेशा के लिए छोड़ सकती हैं। 
बता दें कि यहां शादियां और तलाक काफी आम है। यहां तलाक मिलने पर पत्नी के घरवाले जश्न मनाते हैं। इतना ही नहीं तलाक होने पर महिलाओं को जो चाहिए वह मांग सकती हैं। इसके अलावा महिलाएं किसी तरह का कोई पर्दा नहीं करेंगी क्योंकि उनके चेहरों को मर्दों को दिखाया जाना चाहिए। यहां बड़े-बड़े फैसले लेने के लिए मर्दों को स्त्रियों की इजाजत लेनी पड़ती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ