Random Posts

त्रिपुराः ममता हुई शर्मसार, मां ने बच्चे को 200 रुपए में बेचा

त्रिपुराः ममता हुई शर्मसार, मां ने बच्चे को 200 रुपए में बेचा



त्रिपुरा में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है जिसमें गरीबी से तंग एक आदिवासी महिला ने अपने दो साल के बेटे को महज दो सौ रुपए में बेच दिया। इससे पहले इस राज्य में ग्यारह दिन के एक बच्चे को 76 रुपए में बचने की घटना सामने आई थी। 


जिलाधिकारी विकास सिंह ने बताया कि ढलाई जिले के जनजातीय बाहुल्य गंधशेरा सब डिवीजन के उल्तचेरा गांव की इस घटना की जांच की जा रही है। शुरुआती जांच में पता चला है कि यह मामला गरीबी से जुड़ा हुआ नहीं है। उन्होंने कहा कि हम घटना की पूरी जानकारी जुटा रहे हैं और जल्द ही सच्चाई सामने लाएंगे।


सूनों के अनुसार खन्जय रियांग की पत्नी रुनबती रियांग ने अपने बेटे सुनिजय को 13 अप्रैल को लखिपुर में मकुंभिरपरा के धन्साई रियांग को दो सौ रुपए में बेच दिया था। बच्चे के पिता खंजय रियांग ने बताया कि उसका परिवार काफी गरीब और बुनियादी सुविधाओं से वंचित है लेकिन वह अपनी पत्नी की हरकत से दुखी है। उसने बताया कि उसकी पत्नी ने उसे बताए बिना ही बेटे को बेच दिया। 

उसने कहा कि मुझे पता चला है कि जिस परिवार को बेटे को बेचा गया उस परिवार की लाख कोशिशों के बाद भी बेटा सुनिजय खुश नहीं है। वह हम लोगों के लिए लगातार रो रहा है। हम उसे फिर से अपने पास लाना चाहते हैं लेकिन हमारे पास उस दंपति को लौटाने के लिए पैसे नहीं हैं।


विपक्ष के विधायक डीसी रंगख्वाल ने राज्य सरकार और प्रशासन पर निशाना साधा और कहा कि वह परिवार काफी गरीब और बुनियादी सुविधाओं से वंचित है लेकिन प्रशासन इस घटना को लेकर संवेदनशील नहीं है। 


रंगख्वाल ने बताया कि दुमबर नगर के बाल विकास अधिकारी ने एविड हुसैन खंजय रियांग और धंसाई रियांग से एक दिन पहले मुलाकात की थी लेकिन बच्चे को वापस उसके मां बाप को दिलाने को लेकर कोई समाधान नहीं निकाल पाए थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ