Random Posts

कोकराझाड़ में डायन प्रथा के संदेह में एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला

कोकराझाड़ में डायन प्रथा के संदेह में एक व्यक्ति पर जानलेवा हमला

कोकराझाड़ के बिशमुरी गांव में डायन प्रथा के संदेह में सोमवार को एक व्यक्ति पर स्थानीय लोगों ने जानलेवा हमला कर दिया| 


हमले में किसान रबिराम नर्जारी गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसके बाद उसे लोगों ने किसान को नाजुक हालत में अस्पताल में भर्ती कराया| 


बता दें कि इससे पहले भी इसी गांव में डायन प्रथा चलाने के संदेह में एक छात्र की गांववालों ने हत्या कर दी थी|


सोमवार की इस बर्बर घटना के बाद एक गैर सरकारी संगठन की कार्यकर्त्ता बिरुबाला राभा ने इलाके में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया| बिरुबाला राभा नामक यह सामजिक कार्यकर्त्ता वर्ष 1985 से ही डायन हत्या जैसे सामाजिक अपराध के खिलाफ लड़ रही हैं|


Assam Witch Hunting (Prohibition, Prevention and Protection) Bill , 2015 के लागू होने के बावजूद राज्य में डायन हत्या के मामले सामने आते रहे हैं| इस बिल का उद्देश्य अंधविश्वास की वजह से बढ़ रहे डायन हत्या जैसे सामाजिक अपराधों को समाज से मिटाना है|


असम में डायन हत्या जैसे अपराधों की मुख्य वजह अशिक्षा, गरीबी और विकास की कमी को ही ठहराया जा सकता है|

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ