Random Posts

इस पाकिस्तानी के हैं इतने बच्चे कि जनगणना कर्मचारी को करना पड़ा कमिश्नर को फोन

पाकिस्तान के जनगणना कर्मचारी उस वक्त हैरान रह गए जब वे जनगणना के लिए क्वेटा के एक घर में गए। इस घर में रहने वाले सदस्यों की संख्या 42 हैं। यहां रहने वाले डॉक्टर जान के परिवार में तीन पत्नियां और 38 बच्चे हैं।

यहां पहुंच कर कर्मचारियों की मुश्किलें बढ़ गई, क्योंकि जनगणना फॉर्म में अधिकतम 33 बच्चों के नाम दर्ज हो सकते थे। ऐसे ये समस्या खड़ी हो गई कि बाकी बच्चों के नाम कैसे दर्ज किए जाएं। बता दें कि जान कुछ समय पहले अपनी 100 बच्चों की फौज खड़ी करने की ख्वाहिश को लेकर भी चर्चा में आए थे। 

47 साल के जान मोहम्मद ने पाकिस्तान की समा टी से कहा कि जनगणना फॉर्म में सिर्फ 33 बच्चों के नाम दर्ज होने की जगह है। उन्होंने इसे लेकर शिकायत की और कहा कि वो अपने सारे बच्चों के नाम जनगणना में रजिस्टर्ड कराना चाहते हैं।
ये परेशानी सामने आने के बाद जनगणना कर्मचारी ने कमिश्नर को फोन लगाया। इसके बाद अब कर्मचारी जान मोहम्मद के परिवार के लिए खास फॉर्म की व्यवस्था करा रहे हैं।

क्वेटा के रहने वाले इस शख्स का नाम सरदार जन मोहम्मद खिलजी है। उसकी उम्र 47 साल है। खिलजी के मुताबिक, इतने बच्चे होने के बाद भी वो अपने किसी भी बच्चे के नाम नहीं भूलते हैं। वो हर बार शादी या किसी दूसरे फंक्शन में जाते समय, अलग-अलग पत्नी और बच्चों को लेकर जाते हैं। 

खिलजी ने बताया कि उसकी तीनों बीवियां आपस में मिल-जुलकर रहती हैं। खिलजी पेशे से हकीम है और एक क्लिनिक चलाते हैं। वो अपने क्लिनिक में गरीबों का मुफ्त इलाज करते हैं।
इसके अलावा वह डोनेशन की मदद से एक मदरसा भी चलाते हैं, जिसमें उसके चार बच्चों समेत 400 स्टूडेंट्स पढ़ते हैं। वो अपनी पत्नियों और बच्चों के साथ क्वेटा के बाहरी इलाके में पांच कमरों वाले कच्चे घर में रहते हैं। 

बता दें कि इस्लाम में पुरुषों को चार शादियां करने की इजाजत है। हालांकि, इसके लिए उन्हें पहली पत्नी और पंचायत से इजाजत लेनी होती है।

जान मोहम्मद कुछ महीनों पहले अपनी 100 बच्चे पैदा करने की ख्वाहिश को लेकर चर्चा में थे। उन्होंने कहा था कि वो अपने लिए चौथी पत्नी तलाश रहे हैं, ताकि वो बच्चे पैदा करने की रिलीजियस ड्यूटी पूरी कर सकें।

पाकिस्तानी मीडिया में ये खबरें चलने के बाद उन्हें सोशल नेटवर्किंग साइट्स से शादी के कई प्रपोजल भी मिले थे।

साउथ एशिया में सबसे ज्यादा बर्थ रेट पाकिस्तान में है। वर्ल्ड बैंक और सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, यहां हर एक महिला तीन बच्चों को जन्म देती है। हालांकि, पिछले 30 सालों में यहां कभी भी जनगणना नहीं की गई।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ