Random Posts

वायरल हुआ ये मैसेज,सच जानकर दंग रह जाएंगे आप

वायरल हुआ ये मैसेज,सच जानकर दंग रह जाएंगे आप


सोशल मीडिया पर एक ऐसा मैसेज वायरल हो रहा है। वायरल मैसेज दर्द निवारक/बुखार उतारने वाली दवा पैरासीटामॉल को लेकर है। मैसेज में दावा किया गया है कि इस दवा में दुनिया का सबसे खतरनाक वायरस आ चुका है।

फेसबुक और व्हाट्सएप पर पैरासीटामॉल दवा की तस्वीर के साथ वायरल हुए मैसेज लिखा है,बेहद जरूरी चेतावनी,सावधान रहिए। वो पैरासीटामॉल दवा मत खाइए जिसमें पी/500 लिखा हुआ है। ये नई दवा है जो बहुत सफेद और चमकती हुई पैरासीटामॉल है। डॉक्टर्स ये साबित कर चुके हैं कि इस पैरासीटामॉल में दुनिया का सबसे खतरनाक माना जाने वाला मैचुपो वायरस है,जो बहुत जानें ले चुका है। इसे ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाए ताकि आप उनकी जिंदगी बचा सकें।

मैंने इस मैसेज को फॉरवर्ड करके अपना फर्ज निभा दिया है। इस मैसेज को देखने के बाद लोग डरे हुए हैं।  पी/500 पैरासिटामॉल सबसे सामान्य और सुरक्षित दवा मानी जाती है। ये दवा सुरक्षित है जो बुखार और शरीर का दर्द कम करती है। ये दवा दुकानदार डॉक्टर के पर्ची के बिना भी दे सकता है। डॉक्टरों का कहना है कि दवा की बाजार में आने से पहले तीन स्तर पर जांच की जाती है। पी/500 पैरासिटामॉल दवा सरकार की ओर से लाइसेंस प्राप्त कंपनी ही बनाती है। उसके बाद दो बार दवा की लैब में टेस्टिंग होती है,इसके बाद दवा बाजार में आती है। तीन स्तर पर जांच होती है इसलिए इस दवा में किसी वायरस का होना मुमकिन नहीं है। द हिंदू समाचार पत्र में छपी रिपोर्ट के मुताबिक पैरासिटामॉल में वायरल वाला दावा इंडोनेशिया में इस कदर वायरल हुआ था कि वहां लोगों के डर को निकालने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय को दखल देना पड़ा था।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ