Random Posts

तुलसी के साथ भूल कर भी न करे यह 5 काम, वरना घर में छा सकती है बर्बादी

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार तुलसी को एक बेहद पवित्र पौधा माना जाता है. ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में तुलसी होती है, वहां सुख और समृद्धि जरूर आती है. हालांकि आज हम आपको तुलसी से संबंधित कुछ खास बातें बताना चाहते है. गौरतलब है कि अगर आपके घर में तुलसी का पौधा नहीं है, तो आज ही घर में तुलसी का पौधा ले आईये. जी हां घर में तुलसी का पौधा होने से मन को काफी शांति मिलती है. इसके इलावा अगर आप घर में तुलसी की पूजा करते है, तो आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि तुलसी पूजन करने में आपसे कोई भी गलती नहीं होनी चाहिए. बरहलाल अगर तुलसी पूजन करते समय आपसे कोई गलती हो गई, तो इससे आपको फायदा होने की बजाय नुक्सान भी हो सकता है.आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि तुलसी पूजन करने में आपसे कोई भी गलती नहीं होनी चाहिए. बरहलाल अगर तुलसी पूजन करते समय आपसे कोई गलती हो गई, तो इससे आपको फायदा होने की बजाय नुक्सान भी हो सकता है.
वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दे कि आप कार्तिक महीने में गुरुवार के दिन तुलसी का पौधा अपने घर में लगा सकते है. गौरतलब है कि तुलसी का पौधा अगर घर के आंगन में लगाया जाएँ तो यह सोने पे सुहागे वाली बात होगी. इसके इलावा सुबह होते ही तुलसी के पौधे में जल जरूर डालना चाहिए. इसके साथ ही उसकी परिक्रमा करनी चाहिए. बता दे कि शाम के समय तुलसी के पौधे के नीचे घी का दीपक भी जरूर जलाना चाहिए. गौरतलब है कि धार्मिक शास्त्रों में तुलसी के पौधे को लेकर कुछ खास नियम बताएं गए है. जी हां अगर आपके घर में तुलसी का पौधा है तो आपको इन बातों का खास ध्यान रखना चाहिए.
१. सबसे पहले तो इस बात का ध्यान रखे कि सुबह के समय तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए. इसके साथ ही आपको एकादशी के दिन भी तुलसी का पत्ता नहीं तोडना चाहिए. जी हां अगर आपको एकादशी के दिन पत्ते की जरूरत भी हो तो आपको एक दिन पहले ही तुलसी का पत्ता तोड़ कर रखना चाहिए. गौरतलब है कि शाम का समय तुलसी जी के विश्राम का समय होता है. तो ऐसे में आपको शाम के समय भी पत्ता नहीं तोडना चाहिए.
२. गौरतलब है कि रविवार को तुलसी के पौधे के नीचे आपको दीपक नहीं जलाना चाहिए. इसके साथ ही भगवान् विष्णु और उनके अवतारों को तुलसी दल जरूर अर्पित करना चाहिए. बरहलाल इस बात का ध्यान रखे कि भगवान् शंकर को भूल कर भी तुलसी अर्पित न करे. इसके इलावा गणेश जी और माँ दुर्गा को भी कभी तुलसी अर्पित न करे.
३. बता दे कि आप पूजा करते समय तुलसी के पत्तो का इस्तेमाल भी कर सकते है. इससे आपकी पूजा सफल जरूर होगी. गौरतलब है कि अगर आपके घर में तुलसी का पौधा है तो उसकी अच्छी तरह से देखभाल करनी चाहिए. जी हां तुलसी के पौधे को कभी सूखने नहीं देना चाहिए. दरअसल तुलसी के पौधे के सूखने का मतलब ये है कि आपके घर में कंगाली और नकारात्मक शक्तियों का वास होने वाला है. बरहलाल आपको हर रोज तुलसी के पौधे की पूजा करनी चाहिए.
४. गौरतलब है कि अगर आप तुलसी के पौधे के पास कपड़े सुखाते है, तो आपको ऐसा नहीं करना चाहिए. जी हां क्यूकि ऐसा करने से आपको आर्थिक नुक्सान का सामना भी करना पड़ सकता है. इसके इलावा आपको समय समय पर तुलसी के पौधे की सफाई करते रहना चाहिए. इसके साथ ही तुलसी के पौधे को कभी किसी गंदगी से भरी जगह पर नहीं रखना चाहिए.
५. गौरतलब है कि तुलसी के पौधे को जल चढ़ाते समय आप तुलसी हेतु कोई मंत्र भी बोल सकते है. इससे आपके घर में सुख समृद्धि का वास जरूर होगा. इसके इलावा तुलसी के पौधे की जड़ को गंगाजल से धो कर इसे साफ़ मिटटी में अपने आंगन में लगा दीजिये. इसके साथ ही स्नान करने के बाद ही तुलसी के पौधे को जल देना चाहिए.

बरहलाल आपको तुलसी जी का विवाह विष्णु के स्वरूप शालिग्राम से जरूर करवाना चाहिए. इससे आपके घर में खूब बरकत होगी.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ