Random Posts

परफेक्ट बॉडी के चक्कर में बर्बाद हो गई पर्सनल Life, नारीत्व पर लग गया ग्रहण

परफेक्ट बॉडी के चक्कर में बर्बाद हो गई पर्सनल Life, नारीत्व पर लग गया ग्रहण


दुनियाभर में ज्यादातर महिलाएं अपनी बॉडी को फिट और परफेक्ट साइज में रखना चाहती हैं, लेकिन इस चक्कर में कई बार उन्हें हेल्थ से जुड़ी साइड इफेक्ट्स का सामना भी करना पड़ता है। ऐसा ही एक मामला अमेरिकी प्रांत कोलोराडो की रहने वाली एक्स फिटनेस मॉडल मेडलिन मून से जुड़ा है। 
फिटनेस के चक्कर में हेल्थ के साथ पर्सनल लाइफ हुई बर्बाद
25 साल की मेडलिन ने डेलीमेल से बात करते हुए कहा कि फिटनेस के चक्कर में हेल्थ के साथ-साथ मेरी पर्सनल लाइफ भी बर्बाद होने लगी थी। जब मैं फिटनेस मॉडल कॉम्पिटीशन की तैयारी कर रही थी, तब मेरे पीरियड्स आने बंद हो गए। इसके बाद से मैं हमेशा खुद को भूखी, डरी हुई और दुखी पाती थी। उन्होंने कहा कि फिटनेस मॉडलिंग से जुड़ी ज्यादातर लड़कियां खाने से जुड़े डिसऑर्डर की शिकार होती हैं। उनमें से एक मैं भी थी।
रोजाना सुबह उठकर करती थी एक्सरसाइज
मेडलिन ने कहा कि कॉम्पिटीशन की तैयारी के लिए मैं रोजाना सुबह उठकर दो बार वर्कआउट करती। वहीं खाने में चिकन, ब्रोकली, बटर, ओटमील, अंडे और प्रोटीन पाउडर लेती थी। इतना ही नहीं, इस चक्कर में मैं अपने फैमिली मेंबर्स और दोस्तों से भी दूर हो गई। लेकिन धीरे-धीरे मुझे अपनी इस बॉडी से नफरत होने लगी, क्योंकि ज्यादा एक्सरसाइज और प्रोटीन पाउडर खाने की वजह से गैस के साथ हेल्थ से जुड़ी अन्य प्रॉब्लम्स भी आने लगी।
मेडलिन ने कहा कि मैंने दो फिटनेस कॉम्पिटीशन में हिस्सा लिया, लेकिन अब मैं इससे अलग हो चुकी हूं। फिटनेस के चक्कर में खाने से जुड़े डिसऑर्डर की शिकार हो गई थी, पीरियड्स भी आने बंद हो गए थे। ऐसे में मैंने निर्णय लिया कि अब मुझे ऐसा कुछ नहीं करना। मैंने अपने परफेक्ट बॉडी की जगह खुशी को चुना और अब मैं काफी रिलैक्स्ड महसूस करती हूं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ