Random Posts

डीके शिवकुमार के समर्थन में वोक्कालिगा ने दिखाई अपनी ताकत

कांग्रेस और जनता दल (स) की पूर्व गठबंधन सरकार में ऊर्जा मंत्री रहे डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के विरोध में अनेको वोक्कालिगा संगठनों द्वारा आहूत राजभवन चलो बैनर तले आज बुधवार को किया गया व्यापक विरोध काफी सफल रहा। जिस कारण शहर और मैसूर मंडल के अनेक जिलों में आम जनजीवन सड़कों पर यातायात जाम होने से बुरी तरह प्रभावित रहा। 


बेंगलुरु शहरग्रामीण कोलार, चिकबल्लारपुर, टुमकुर, हासन, रामनगर, मांड्या और मैसूर जिलों में वोक्कालिगा समुदाय के लोग फैले हुए हैं तथा उनकी अधिकारिक संस्था व वोक्कालिगारा संघ ने डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के विरोध में बंद का आह्वान किया था। शिवकुमार इसी समुदाय से ही हैं। 

फ्रीडम पार्क की ओर बढ़ने से पूर्व कांग्रेस और जनता दल (स) पार्टियों के अनेक नेताओं और कई समर्थित कन्नड़ संगठनों ने नेशनल कॉलेज मैदान पर आयोजित विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए केंद्र की भाजपा नीत सरकार पर हमला बोला। सभी वक्ताओं का कहना था कि केंद्र सरकार राजनीतिक बदले की भावना से सरकारी सुरक्षा एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है और उनके नेताओं को झूठे मुकदमों में फंसा रही है। 

जनसभा को संबोधित करते हुए कर्नाटक प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष दिनेश गुंडू राव, पूर्व कांग्रेसी मंत्री कृष्णा बर्गोडा, रामलिंगा रेड्डी, चेलूनारायण स्वामी, शिवराम गौड़ा सहित अनेक विधायकों और वोक्कालिगा नेताओं ने कहा कि संकट की घड़ी में पूरा समुदाय शिवकुमार और उनके परिवार के साथ है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार का डीके शिवकुमार, पी चिदंबरम और कई अन्य के खिलाफ बदला लेने के कदमों के विरुद्ध संघर्ष करेंगे, जो कानून लागू करने वाली एजेंसियों का शिकार बने हैं। 

इस व्यापक विरोध प्रदर्शन के कारण पुलिस को मोटरकार वाहनों को दूसरे मार्गों से ले जाने को समझाने में काफी मशक्कत करनी पड़ी।